रतलाम के बारे में...


****
भाई अतुल अरोरा को उनकी टिप्पणी हेतु हार्दिक धन्यवाद.
रतलाम (मध्य प्रदेश) जहाँ मैं अभी रहता हूँ, वह दिल्ली तथा मुम्बई रेल लाइन के
बीचों बीच पड़ता है. मेरे नाम के आगे रतलामी पड़ने का कारण यह है कि याहू में
रजिस्टर करते समय यही उपलब्ध आईडी नाम सूझ पड़ा था, तो अब यह चल पड़ा है.
रतलाम एक छोटा सा शहर है, जिसकी जनसंख्या ३ लाख के करीब है. यहाँ कोई विशेष
दर्शनीय स्थान नहीं है, जिसके कारण यह प्रसिद्ध हो सके. हालाकि यहाँ के नमकीन सेव
काफ़ी प्रसिद्ध हैं, जो कि मिर्च मसाले और फ़ैट से भरपूर होते हैं, ज़ाहिर है,
यहाँ हृदय रोगियों की संख्या भी अनुपात में ज्यादा है. लोग कहते हैं कि यहाँ का
सोना (नींद नहीं) भी बहुत अच्छा होता है. अपने को तो सोना (नींद सम्मिलित) नसीब
ही नहीं है, अपुन क्या जानें सोने का स्वाद...
****

कल दिन भर इंडलिनक्स की बहुभाषी, जीवंत, बूटेबल सीडी का परीक्षण चलता रहा. सीडी
से सीधे ही आप हिंदी, बंगाली, गुज़राती, पंजाबी, तमिल, मलयालम (अंग्रेजी सहित)
इत्यादि भाषा में लिनक्स में बूट कर सकते हैं तथा सीधे ही उस भाषा में कार्य कर
सकते हैं. अभी इसका बीटा संस्करण जारी हुआ है जो थोड़ा सा बगी है, और अनुवाद
अशुद्धियों के साथ है. पर शीघ्र ही इसका पूर्ण संस्करण आएगा जिससे भारतीय
कम्प्यूटिंग को एक नई
दिशा मिलेगी.

रंगोली बीटा संस्करण का अईएसओ इमेज़ यहाँ उपलब्ध हैः
http://www.indlinux.org
****
विषय:

एक टिप्पणी भेजें

रतलाम से लीनक्स…यह कौन सी यात्रा है और किस एक्सप्रेस से हो रही है?

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

[blogger][facebook]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget